Friday, August 26, 2011



images

वंदना


हे कृपानिधान ; करुना की खान ,
तुझमे है अद्भुत ; शक्ति -ज्ञान .
तुझसे ही चलता ; ये सरसती -यान ,
तुझमे ही समाहित ; विश्व -महान .




सूर्य बन ; इस वसुंधरा को ,
करता तू ही ; देदीप्यमान .
मेघ बन ; निज कालिमा से ,
धक् लेता ; तू ही आसमान .




दया ,क्षमा ; करुना ; के सागर
तू है अपरमित ; गुणों  की खान .
मई अनुरागी ; विवेकहीन नर
कैसे करू ; तेरा बखान


.
हो हमारी ; अनुरक्ति तुझमे ,
करू मै ; तेरा ही गुणगान
ऐसी मुझको ; शक्ति दे प्रभु ,
जपु सदा ; तेरा ही नाम .
,


.........................................
.
,
.

12 comments:

  1. "ऐसी मुझको; शक्ति दे प्रभु ,
    जपु सदा; तेरा ही नाम"

    ReplyDelete
  2. हो हमारी ; अनुरक्ति तुझमे ,
    करू मै ; तेरा ही गुणगान
    ऐसी मुझको ; शक्ति दे प्रभु ,
    जपु सदा ; तेरा ही नाम

    bahut khubsurat vandana , sunder bhavo ke saath.............aabhar

    ReplyDelete
  3. सुशीला जी, शायद आपने ब्‍लॉग के लिए ज़रूरी चीजें अभी तक नहीं देखीं। यहाँ आपके काम की बहुत सारी चीजें हैं।

    ReplyDelete
  4. आपको हिंदी दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं आज हमारी "मातृ भाषा" का दिन है तो आज हम संकल्प करें की हम हमेशा इसकी मान रखेंगें...
    आप भी मेरे ब्लाग पर आये और मुझे अपने ब्लागर साथी बनने का मौका दे मुझे ज्वाइन करके या फालो करके आप निचे लिंक में क्लिक करके मेरे ब्लाग्स में पहुच जायेंगे जरुर आये और मेरे रचना पर अपने स्नेह जरुर दर्शाए..
    MADHUR VAANI कृपया यहाँ चटका लगाये
    BINDAAS_BAATEN कृपया यहाँ चटका लगाये

    ReplyDelete
  5. भावपूर्ण चित्रण.बहुत सुन्दर प्रस्तुति.आभार!

    ReplyDelete
  6. bhawpurn vandana...
    shat shat naman..
    likhte rahen...

    ReplyDelete
  7. ye word verification hata dijiye
    is se log irritate ho jate hain, comment karne me...

    ReplyDelete


  8. ♥(¯`'•.¸(¯`•*♥♥*•¯)¸.•'´¯)♥
    ♥♥नव वर्ष मंगलमय हो !♥♥
    ♥(_¸.•'´(_•*♥♥*•_)`'• .¸_)♥


    सूर्य बन ; इस वसुंधरा को ,
    करता तू ही ; दैदीप्यमान
    मेघ बन ; निज कालिमा से ,
    ढक लेता ; तू ही आसमान

    दया ,क्षमा , करुणा के सागर
    तू है अपरमित ; गुणों की खान
    मैं अनुरागी ; विवेकहीन नर
    कैसे करूं तेरा बखान

    बहुत सुंदर !

    आदरणीया डॉ.सुशीला जी
    आपकी लेखनी ने आनंदित कर दिया ...


    # आशा है सपरिवार स्वस्थ सानंद हैं
    नई पोस्ट बदले हुए बहुत समय हो गया है …
    आपकी प्रतीक्षा है सारे हिंदी ब्लॉगजगत को …
    :)

    हार्दिक मंगलकामनाएं !
    मकर संक्रांति की अग्रिम शुभकामनाओं सहित…

    राजेन्द्र स्वर्णकार
    ◥◤◥◤◥◤◥◤◥◤◥◤◥◤◥◤◥◤◥◤◥◤◥◤◥◤

    ReplyDelete
  9. मुझे आपका blog बहुत अच्छा लगा। मैं एक Social Worker हूं और Jkhealthworld.com के माध्यम से लोगों को स्वास्थ्य के बारे में जानकारियां देता हूं। मुझे लगता है कि आपको इस website को देखना चाहिए। यदि आपको यह website पसंद आये तो अपने blog पर इसे Link करें। क्योंकि यह जनकल्याण के लिए हैं।
    Health World in Hindi

    ReplyDelete
  10. http://www.bhannaat.com/2016/06/abdul-kalaam-childhood-story-in-hindi.html

    बहुत अच्छा लिखती हैं आप, परन्तु हिन्दी में गलतियाँ कर दी हैं आपने बहुत सारी...

    ReplyDelete